गिलोय का पौधा कैसा होता है? इस प्रकार पहचाने।

गिलोय का पौधा कैसा होता है

गिलोय का पौधा कैसा होता है। इसके लाभ क्या है।(How is the plant of Giloy. What are its benefits?)

गिलोय का पौधा कैसा होता है? यह सवाल ज़्यादातर उन लोगों का होता है जिन्हे इसके गुणो पता होता है या  किसी विशेषज्ञ द्वारा किसी प्रकार की बीमारी को ठीक करने के लिए गिलोय का उपयोग करने की सलाह दी जाती है।इसके अतिरिक्त जो लोग इसको लगाना चाहते हैं उन्हे भी इसकी पहचान के बारे मे पता नहीं होता। इसलिए हम आपको इसकी पहचान के बारे मे जानकारी देंगे जिससे आप इसे इसे  देखते ही पहचान लेंगे।

अगर आपको इस औषधीय गुणो वाले पौधे की पहचान नहीं होती तो शायद अपने इसे कभी देखा हो या आपके आसपास इसका पौधा हो ओर आप इससे वंचित रह गए हों।

गिलोय को गुडुच ओर अमृता भी कहा जाता है। ओर आप जानते ही होंगे कि अमृता उसे कहा जाता है जिसका सेवन करने से अम्रता प्रदान की जा सकती है। इसमे इतने औषधीय गुण होते हैं कि इसका उपयोग हर बीमारी मे किया जा सकता है। पूरी तरह से स्वस्थ व्यक्ति भी इसका सेवन कर सकते हैं।

हमारे आयुर्वेद मे इसे बहुत महत्वपूरण स्थान दिया जाता है। क्योंकि हमारे ऋषि मुनियों को इसके सभी गुणो के बारे मे जानकारी थी। गिलोय को बुखार मे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। बुखार मे यह बहुत ही लाभ देती है। गिलोय से लगभग हर प्रकार के बुखार का इलाज हो सकता है ओर बचा जा सकता है।

आइए जानते हैं कि आखिर गिलोय का पौधा कैसा होता है। 

  • Baidyanath Guduchi (Giloy) Ghan Bati - Helps Boost Immunity - 60 Tablets (pack of 2)



    • Baidyanath Boost Immunity Natural Giloy Juice - 1 ltr




    गुरुच का पेड़ की रंग के आधार पर पहचान (Identification based on the color of the Gurucha tree)

    गिलोय यानि कि गिलोय को एक बेल की श्रेणी मे रखा जाता है। यह देखने मे लंबी बेल लगती है जैसे कि अन्य बेलें होती है। इसकी बेल का रंग हल्का भूरा होता है दूर से देखने मे यह थौड़ी सफ़ेद ओर हरी दिखाई देती है। आमतौर पर यह हरे रंग की भी होती है। कुछ-कुछ दूरी पर इसमे पत्ते लगे होते है।

    पत्ते के अनुसार गिलोय का पौधा कैसा होता है। (According to the leaf how is the plant of Giloy)

    गिलोय के पौधे का पत्ता दिल के जैसा प्रतीत होता है। इसके पत्ते पान के पत्ते के जैसे भी लगते है तथा हर पतों की तरह ये भी हरे होते है। आकार मे इसके पत्ते नॉर्मल आकार के होते है।


    स्वाद के अनुसार गिलोय का स्वाद कैसा होता है? (How does Giloy taste according to taste?)

    गिलोय को अगर आप टेस्ट करते हैं तो इसका स्वाद कड़वा लगता है। क्योंकि गिलोय एक बेल है इसलिए गिलोय जिस पेड़ पर चढ़ जाती है उसी पेड़ के गुण गिलोय मे आ जाते हैं इसलिए ये भी जरूर देखे कि यह किस पेड़ पर चढ़ी हुई है।

    गिलोय का फल कैसा होता है? (What is Giloy fruit like?)

    गिलोय की बेल मे हरे रंग के फल लगते है। जब यह पाक जाते हैं तो इनका रंग लाल हो जाता है। इसमे फल सर्दी के मोसम मे लगता है।


    गिलोय का फूल कैसा होता है? (What is Giloy flower like?)

    गिलोय का फूल गर्मियों के मौसम मे खिलता है। तथा गिलोय के फूलों का रंग पीले-हरा होता है। इसके फलों से इसे पहचानने मे आसानी रहती है।
    अगर आपको ये गुण किसी बेल मे मिल जाएँ तो समझ लें कि यह बेल गिलोय है।

    अगर आप गिलोय का काढ़ा बनाने के बारे मे जानना चाहते हैं तो विडियो देख सकते हैं।

    गिलोय का काढ़ा कैसे बनाये (How to make Giloy's Brew)




     गिलोय के बारे मे अन्य जानकारी (Other information about Giloy)

    कई लोगो का सवाल होता है कि गिलोय का पौधा घर में कैसे लगाएं गिलोय का पौधा या बेल लगानी बहुत ही आसान होती है। आइए जानते हैं। गिलोय का पौधा कैसे लगाएँ?
      

    गिलोय का पौधा घर पर कैसे लगाएं (How to plant Giloy's plant at home)

    गिलोय का पौधा लगाना बहुत ही आसान है। जैसा कि आप जानते हैं कि गिलोय की बेल जिस पेड़ पर चढ़ जाती है उसी के गुण उसमे आ जाते हैं। इसलिए नीम के पेड़ पर चढ़ी हुई बेल बहुत लाभदायक होती है। आप गिलोय की लम्बी बेल को कहीं से ला कर बस नीम के पेड़ मे लपेट दें यह वहीं से उगना शुरू हो जाएगी। इसे मिट्टी की जरूरत नहीं होती है ओर यह नीम के ऊपर ही जीवित रहती है। 

     आशा करते हैं कि आप गिलोय का पौधा कैसा होता है? जान गए होंगे। अगर आप गिलोय का सेवन करते हैं। तो आप बीमारियों से बच सकते हैं। गिलोय जैसे ओषधीय गुण किसी ओर मे नहीं मिलते इसलिए आप कोरोना जैसी महामारी से समय मे अपनी immunity को बढ़ाने के लिए गिलोय के काढ़े का सेवन जरूर करें। अगर आपको हमारी जानकारी पसंद आयी हो तो आप हमे कमेंट जरूर करें ओर साइड मे लगा लाइक का बटन भी दबाएँ। 
    Previous
    Next Post »