Breaking

 



loading...

Tuesday, 17 November 2020

वजन क्यों बढ़ता है ?, मोटापा के इलाज और मोटापा से होने वाली बीमारी ।



   

वजन क्यों बढ़ता है ?, मोटापा के इलाज और मोटापा से होने वाली बीमारी । (Causes of obesity, treatment of obesity and disease caused by obesity.)

वजन क्यों बढ़ता है ?➡️ मोटापा आजकल की होने वाली सबसे बड़ी समस्याओं मे से एक है। इसको ठीक कर फिट शरीर पाना अपने आप चुनौती है। मोटापा ही एक ऐसी बीमारी है जिसके कारण शरीर को अनेक बीमारियों के होने का खतरा बहुत ज्यादा बढ़ जाता है।

मोटापा का कारण बहुत सी भोजन, रहन-सहन और गलत समय पर भोजन संबंधी आदते हो सकती हैं। इसके अलावा भी बहुत से वजन बढ़ने के कारण हो सकते हैं। 

मोटापे को दूर करने के लिए बहुत से आदतों को सुधारने की जरूरत होती है। चाहे वो भोजन संबद्धि हो या रहन सहन संबद्धि। अगर मोटापा हद से ज्यादा हो जाए तो इसके लिए सर्जरी की जाती है। इससे बचाने का उपाए है कि आप अपने मोटापे को समय रहते ही ठीक करें।

दिनचर्या मे एक्सर्साइज़ ओर अन्य शारीरक क्रियाओं का न होना भी मोटापे का महत्वपूरण कारण हो सकता है। मोटापा से बचाव के लिए दिनचर्या मे शारीरक क्रियाओं का होना बहुत महत्वपुराण हैं।

आइए जानते है संक्षेप मे मोटापा के कारण जिससे आप इनको ध्यान मे रखकर अपना दिन व्यतित करें। 

  • Alvizia CLA 1000Mg Fat Burner (90 Capsules)

 

  • Gassa Sweat Belt Tummy Trimmer Adjustable Waist Shaper for Men and Women

 


मोटापा के कारण (Causes of obesity)

मोटापे के निम्नलिखित कारण महत्वपुराण है। 


भोजन (food)

 मोटापा बढ़ने के कारण बहुत से हो सकते है जिनमे से गलत भोजन का सेवन करना, सही समय पर भोजन का सेवन न करना,  जब मन चाहे तब खाना आदि हो सकते हैं। कई लोगों का सवाल होता है कि मोटापा क्या खाने से बढ़ता है ? भोजन मे अधिक मात्रा मे वसा का सेवन करना भी आपको मोटापे का शिकार बना सकता है। भोजन मे अधिक तले पढ़ार्थों का सेवन, मीठे का अधिक सेवन, फास्ट फूड का सेवन करना वजन बढ़ने के कारण हो सकते है। अगर आप इन सब चीजों को ध्यान मे रखकर और हरी सब्जियों, फल आदि को अपने भोजन मे शामिल करते हैं। तो मोटापे से बच सकते हैं।

एक्सर्साइज़, योग और शारीरक क्रियाओं का न होना (Absence of exercises, yoga and physical activities)

 लोगों का यह सवाल भी होता है कि वजन कैसे बढ़ता है। मोटापा बढ़ने का एक महत्वपूरण कारण  दिनचर्या मे एक्सर्साइज़, योग आदि क्रियाओं का न होना है। जो व्यक्ति नियमित रूप से  शारीरक क्रियाएँ, योग, एक्सर्साइज़
आदि करता है। वो मोटापे की खतरनाक बीमारी से बचा रहता है। इसलिए योग,एक्सर्साइज़ और किसी आउटडोर खेल मे भाग जरूर लें। इससे शरीर स्वस्थ बना रहता है और बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। 

अधिक समय तक बैठे रहना या पड़े रहना। (Long sitting)

कई लोगों द्वारा यह सवाल भी पूछा जाता है कि मोटापा क्यो बढ़ता है ? अगर आपका कम अधिक समय तक बैठे रहने का है। तब भी आप मोटापे का शिकार हो सकते हैं। ऐसे मे आपका पेट बाहर निकाल आता है या पेट मे चर्बी जमा होने लगती है। इसका उपाय यही है कि अधिक समय तक न बैठे और शारीरक गतिविधियां, योग, एक्सर्साइज़ को अपनाएं।



किसी बीमारी के कारण (Due to some disease) 
कई बार वजन बढ़ने कारण कोई बीमारी भी हो सकती है। कुछ बीमारियाँ ऐसी होती हैं जिनके कारण व्यक्ती मोटापे का शिकार हो जाता है। या बीमारी के कारण सेवन की जाने वाली दवाइयों के कारण भी मोटापा हो सकता है।

अधिक नींद या कम नींद। (More sleep or less sleep)

अगर आप कम नींद लेते है। तो भी आप मोटापे के शिकार हो जाते है जबकि इसके विपरीत अगर आप ज्यादा नींद भी लेते हैं तब आप मोटापे का शिकार हो जाता है। इससे बचने का यही तरीका है कि आप दिन मे बिलकुल सही नींद लें। लगभग 7-8 घंटे की नींद जरूर लें।

आनुवंशिकता (Inheritance)

अगर आपकी जीवन शैली बिलकुल सही है और फिर भी आप मोटापे का शिकार हैं तो आप ये जरूर सोच रहें होंगे कि मेरा वजन क्यों बढ़ता है? और वजन कैसे बढ़ जाता है? इसका कारण आनुवंशिकता होता है।आनुवंशिकता अर्थ है कि अगर आपके माँ या पिता जी मोटापे के शिकार हैं या उनके माँ पिता जी मोटापे  का शिकार हों  तो संभव है कि आप भी मोटापे का शिकार हो सकते हैं। इसमे आपको दोष नहीं दिया जा सकता।



मोटापे के लक्षण (Symptoms of obesity)

मोटापे होने से पहले इसके लक्षण पहचान कर इसे पहले ही ठीक करना चाहिए क्योंकि अगर यह बढ़ जाए तो मोटापे को कम करना बहुत कठिन हो जाता है। इसके लक्षण निम्नलिखित हैं।


वजन का बढ़ना (Weight gain)

अगर आपका वजन तेजी से बढ़ाने लगा है तो समझ लेना चाहिए कि आप मोटापे का शिकार हो रहे है। वजन कुछ बढ़ना तो सही है पर अगर आपका वजन बहुत ही तेजी से बढ़ रहा है तो आप मोटापे का शिकार हो सकते हैं।

चर्बी का बढ़ना  (Fat gain)

अगर आपको महसूस हो की आपकी त्वचा मे चर्बी बढ़ गई है और त्वचा मोटी होती जा रही है। यह मोटापे का लक्षण हो सकता है। ये लक्षण दिखने पर आपको सतर्क हो जाने की आवश्यकता है।


अवश्यकता से अधिक नींद आना या कम नींद आना।(Excessive sleepiness or poor sleep)

अगर आपको नींद ज्यादा आ रही है तो यह चिंता का विषय हो सकता है। लेकिन अगर आपको कम नींद आ रही है तो यह भी चिंता का विषय है। यह मोटापा होने का लक्षण हो सकता है।

सांस फूलना (breathlessness)

अगर आपको थोड़ा सा चलने पर सांस फूलने लगती है तो यह मोटापे का लक्षण हो सकता है। सांस फूलना आपके फेफड़ों मे कमजोरी के कारण भी हो सकता है।

आत्मविसवास मे कमी (Loss of confidence)

अगर आपके आत्मविश्वास मे कमी होने लग जाए तो यह मोटापे का कारण हो सकता है। ऐसा होने पर आपको समय रहते सतर्क होने की आवश्यकता है।


मोटापे के नुकसान तथा मोटापे से कौन कौन सी बीमारी होती है ? (Loss of obesity and which disease is caused by obesity?)

1 .  मोटापे से टाइप 2 डाइबटीज होने का खतरा बढ़ जाता है।
2.  वजन बढ़ने के कारण ज़्यादातर ह्रदय से संबधित रोग होने का खतरा बढ़ जाता है।
3.  वजन बढ़नेके कारण गढ़िया रोग होने का खतरा बढ़ जाता है।
4.  वजन बढ़ने के कारण मानसिक तनाव भी हो सकता है।
5.  शरीर मे थकान का महसूस होना मोटापे के कारण होता है।
6. वजन बढ़नेके कारण शरीर मे कम करने मे चुस्ती ओर फुर्ती नहीं रहती है।
7.  अधिक मोटापे से कई तरह के कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। जैसे गले का कैंसर, आंत का कैंसर, किडनी मे कैंसर आदि।
8. वजन बढ़ने के कारण किसी भी कम को करने की शक्ति कम हो जाती है।
9. वजन बढ़ने के कारण मांसपेशियाँ कमजोर हो जाती हैं।
10. वजन बढ़ने के कारण अधिक भूख लगाने लगती है।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आयी हो तो साइड मे लगा लाइक का बटन जरूर दबाएँ। किसी भी प्रकार का सवाल पूछने के लिए हमे कॉमेंट जरूर करें। उपर दिये गए  वजन बढ़ने के कारण हो सकते हैं इन्हे आप समय रहते ही पहचान ले और मोटापे को दूर करें।


No comments:

Post a comment